1000+ 【Two Line Shayari】in Hindi - Short 2 Line Shayari

Two Line Shayari Collection

जुबां कह न पाई मगर,आँखे बोलती ही रही, कि मुझे सांसो से पहले तेरी जरूरत है.


उन के होंठो को देखा तब एक बात उठी ज़हन में, वो लफ्ज़ कितने नशीले होंगे जो इनसे हो कर गुज़रते है।।


ना किया करो कभी किसी से दिल दुखाने वाली बात, सुना है दिल पे निशाँ रह जाते हैं सदियो तक.


माना मुश्किल है ये सफ़र, पर तुझ तक पहुचना ज़िद है मेरी….!!


एक ही शहर से इतने जनाज़े ग़ालिब, हसीनाओ पे कोई पाबंदी लगाओ !!


एक तरफा ही सही मगर प्यार तो प्यार है..!! उसे हो ना हो लेकिन मुझे बेशुमार है..!


मुनाफे की बात नहीं होती हमारे कारोबार में, हम आईना बेचा करते हैँ अंधों के बाजार में.


यूँ तो आदत नहीं मुझे मुड़ के देखने की… तुम्हें देखा तो लगा…एक बार और देख लू…!!


Kii Mohabbat to siyasat ka chalan chhod diya… Hum agar pyar na karte to hakoomat karte…..


Tere khamosh honton par mohabbat gungunati hai….. Tu mera hai, main tera hoon, bus yehi aawaz aati hai…


Neend Bhi Mehbooba Ban Gayi Hai…. Bewafaa Raat Bhar Nai Aati….


मैं मोहब्बत करता हूँ तो टूट कर करता हुँ… ये काम मुझे जरूरत के मुताबिक नहीं आता….


तेरे बाद किसी को प्यार से ना देखा हमने….. हमें इश्क का शौक है, आवारगी का नही…


Kuch Log Do Pal Sath Chal kar Fir Umar Bhar Ki Tanhayi pata ni kyun De Jaate Hain…!!


Mohabbat kise or kab ho Jaye andaja nhi hota… Ye wo ghar hi jiska darwaja nhi hota..


Tajurba kaheta hai mohabbat se kinara kar lu… Aur dil kaheta hai ki ye tajurba dubara kar lu….!!!


Humein Surat Se Kya Matlab Hum Seerat Pey Martey Hain…. Usey Kehna Tumhara Husn Jab Dhal Jaye To Loat Aana….!!!


hum b moojud the taqdeer k darvaje par……. log daulat par gire ..aur Hamne ne tumhe maang liya..!!


मैने दील के दरवाजे पर लीखा अन्दर आना सख्त मना हे. . . महोब्बत हंसती हुई आयी और बडे प्यार से कहा माफ करना मै तो अंधी हु.!!


Kuch Log Do Pal Sath Chal kar Fir Umar Bhar Ki Tanhayi pata ni kyun De Jaate Hain…!!


Bahut Khush Naseeb hote hain Wo Log Jin ka Pyaar Unki Kadar bhi Karta hai aur Izzat bhi.


पागल उसने कर दिया, एक बार देखकर. . . मै कुछ भी ना कर सका लगातार देखकर. . .


मोहब्बत है तो कबुल करो सरेआम वो जो बन्द कमरो मेँ होता है उसे हवस कहते है।

You May Also Like