1000+ 【Sad Status in Hindi】for Boyfriend & Girlfriend

Sad Status in Hindi

पागल नही थे हम जो तेरी हर बात मानते थे, बस तेरी खुशी से ज्यादा कुछ अच्छा ही नहीँ लगता था…


याद हैं मुझे आज भी उसके आखिरी अल्फ़ाज़… जी सको तो जी लेना … वरना मर जाओ … तो बेहतर है…


सोचता हूँ …कभी तेरे दिल में उतर के देख लूं…कौन है ?? तेरे दिल में ??….जो मुझे बसने नहीं देता…..!!


तकिये क़े नीचे दबा क़े रखे हैँ तुम्हारे ख़याल..एक तेरा अक्स, एक तेरा इश्क़ ,ढेरोँ सवाल और तेरा इंतज़ार .


तेरा और मेरा इतना ही किस्सा हैं, तू मेरे दर्द का एक अहम हिस्सा हैं.


तेरे बाद खुद को इतना तनहा पाया, जैसे लोग हमें दफना के चले गए हो !!


अब इश्क ☝ भी करो तो ‎ज़ात पूछकर करना, ☝ यारो ‎मज़हबी झगड़ो में ‎मोहब्बत हार ☝ जाती है…


एक शख्स है ज़िन्दगी जैसा.. और वो भी ज़िन्दगी में नहीं…!!


हँसते रहने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे, छोड़ गया वो ये सोच कर कि…हम दूर रह कर भी खुश हैं


वही रिश्ता, वही नाता, वही मैँ और वही तुम, बस अब वक्त ना रहा तेरे पास इजहार-ए-मोहब्बत के लिए


इस दुनिया के लोग भी कितने अज़ीब हैं, सारे खिलौने छोड़ कर जज़्बातों से खेलते हैं….


तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है, जिसका रास्ता बहुत खराब है,मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा ना लगा, दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है।


उस मोड़ से शुरू करनी है फिर से जिंदगी, जहाँ सारा शहर अपना था और तुम अजनबी…


होठों की हँसी को ना समझ हक़ीक़त-ए-जिंदगी, दिल में उतर के देख हम कितने उदास है..


वो जो “अपना” था “किसी” और का “क्यों” है, ऐसी दुनिया है तो ये “दुनिया” क्यों है….


अब भी ताज़ा हैं जख्म सिने में … बिन तेरे क्या रखा हैं जीने में… हम तो जिन्दा हैं तेरा साथ पाने को …. वर्ना देर नहीं लगती हैं जहर पीने में !!


जिस्म से होने वाली मुहब्बत का इज़हार आसान होता है… रुह से हुई मुहब्बत को समझाने में ज़िन्दगी गुज़र जाती है…..


तुम्हारे बाद मेरा कौन बनेगा हमदर्द.. मैंने अपने भी खो दिए.. तुझे पाने की ज़िद में….


सुना था मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले, हमारी बारी आई तो, रिवाज ही बदल गया


रूठेंगे तुमसे तो इस कदर की,तुम्हारी आँखे मेरी एक झलक को तरसेंगी…


निकाल दिया उसने हमें अपनी ज़िन्दगी से भीगे कागज़ की तरह ना लिखने के काबिल छोड़ा ना जलने के


काश की उसको हम बचपन मे ही मांग लेते,क्योंकि बचपन में हर चीज मिल जाती थी तब दो आँसू बहाने से


कुछ अलग करना है तो दोस्तों वफ़ा करो … वरना मजबूरी का नाम लेकर बेवफाई तो सभी करते हैं।


तैरना तो आता था हमे मोहब्बत के समंदर मे लेकिन, जब उसने हाथ ही नही पकड़ा तो डूब जाना अच्छा लगा

You May Also Like