1000+ 【Sad Status in Hindi】for Boyfriend & Girlfriend

Sad Status in Hindi

बेशक तू बदल ले अपने आपको लेकिन ये याद रखना, तेरे हर झूठ को सच मेरे सिवा कोई नही समझ सकता…!


दिल ही दिल में कुछ छुपाती है वो, यादों में आ कर चैन चुराती है वो, ख्वाबों में एक ऐहसास जगा रखा है, बन्द आँखों में अश्क बन के तडपाती है वो..


टूट जायेंगी उसकी “ज़िद” की आदत उस वक़्त, जब मिलेगी ख़बर उनको की याद करने वाला अब याद बन गया है…


तेरी आँखों से यून तो सागर भी पिए हैं मैने, तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने…


बदनाम क्यों करते हो तुम इश्क़ को , ए दुनिया वालो, मेहबूब तुम्हारा बेवफा है ,तो इश्क़ का क्या कसूर..!!


मेहनत कितनी भी कर लो, किस्मत अगर कमीनी है,तो जिंदगी साउथ अफ्रीका हो जाती हैं


आज सोचा जिंन्दा हुँ, तो घूम लूँ, मरने के बाद तो भटकना ही है…!


युं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे…पता नही था, की, ‘किमत चेहरों की होती है’ !


है दफ़न मुझमे कितनी रौनके मत पूछ ऐ दोस्त, हर बार उजड़ के भी बस्ता रहा वो शहर हूँ मैं!!


किसी ने यूँ ही पूछ लिया हमसे कि दर्द की कीमत क्या है; हमने हँसते हुए कहा, “पता नहीं… कुछ अपने मुफ्त में दे जाते हैं।


आज हम हैं, कल हमारी यादें होंगी. जब हम ना होंगे, तब हमारी बातें होंगी. कभी पलटो गे जिंदगी के ये पन्ने, तो शायद आप की आँखों से भी बरसातें होंगी


ये भी एक तमाशा है, इश्क और मोहब्बत में दिल किसी का होता है और बस किसी का चलता है.


मैं उस किताब का आख़िरी पन्ना था, मैं ना होता तो कहानी ख़त्म न होती.


तुमको बहार समझ कर, जीना चाहता था उम्र भर,भूल गया था की मौसम तो बदल जाते हैं.


खुदको मेरे दिल में ही छोड़ गई हो, तुझे तो ठीक से बिछड़ना भी नहीं आया.


टूटे मक़ान वाला, दिल में ताजमहल रखता हूँ, बात गहरी मगर अल्फ़ाज़ सरल रखता हूँ.


जिस “चाँद” के हजारों हो चाहने वाले दोस्त, वो क्या समझेगा एक सितारे कि कमी को.


सुना है आज उस की आँखों मे आसु आ गये, वो बच्चो को सिखा रही थी की मोहब्बत ऐसे लिखते है.


हमें भी शौक था दरिया -ऐ इश्क में तैरने का, एक शख्स ने ऐसा डुबाया कि अभी तक किनारा न मिला.


कल रात मैंने अपने सारे ग़म,  कमरे की दीवार पर लिख डाले, बस फिर हम सोते रहे और दीवारे रोती रही.


क़यामत के रोज़ फ़रिश्तों ने जब माँगा उससे ज़िन्दगी का हिसाब, ख़ुदा, खुद मुस्कुरा के बोला, जाने दो, ‘मोहब्बत’ की है इसने.


लुट लेते है अपने ही वरना, गैरों को कहां पता इस दील की दीवार कहां से कमजोर है.


हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का, बड़ी सादगी से कहते है मजबूर थे हम.


इरादा कत्ल का था तो ~मेरा सर कलम कर देते, क्यू इश्क मे डाल कर तुने ~हर साँस पर मौत लिख दी.

You May Also Like