1000+【Nice Status】in Hindi & English For Decent people

Nice Status in Hindi & English

Delete me , Poke me, Like me, Limit me ..The choice is yours. Welcome to Facebook, where no one is really your friend.


I’d rather check my Facebook than face my check book.


I’m wondering why logging onto Face book has become part of the everyday routine?… Do I really have nothing better to do!


Your intelligence is my common sense.


पत्थर को लोग इसलिए पूजते हैं क्योंकि विश्वास करने लायक इंसान नहीं मिलता।


जहाँ जहाँ खबर पहुँची… हर एक ने एक ही सवाल किया… तुम्हें कैसे मुहब्बत हो गयी, तुम तो समझदार थे…


बुरा वक़्त सबसे बड़ा जादूगर है , एक ही पल में सारे चाहने वालों के चेहरे से पर्दा हटा देता है।


वक़्त और प्यार दोनों ज़िन्दगी में ख़ास होते हैं .. वक़्त किसे का नहीं होता और प्यार हर किसी से नहीं होता।


That awkward moment when you change your Facebook status to ‘single’ and your ex likes it.


Weather forecast for tonight: Dark with a chance of tomorrow in the morning.


I intend to live forever, or die trying.


Being nice to people you don’t like is not being two faced, it is called growing up.


कोई नहीं है दुश्मन अपना फिर भी परेशान हूँ मैं, अपने ही क्यूँ दे रहे है जख्म इस बात से हैरान हूँ मैं !!


आज महफिल खामोश कैसे है, दोस्तों..जख्म भर गये ? या मोहब्बत फिर से मिल गयी..?


वफ़ा उनसे ना पूँछो जो आंसू बहाते हैं … वफ़ा उनसे पूँछो जो उन्हें पी जातें हैं


कौन कहता है आईना झूठ नहीं बोलता, वह सिर्फ होठो की मुस्कान देखता है, दिल का दर्द नहीं..


The kids next door challenged me to a water balloon fight. I’m just updating my status while waiting for the water to boil.


Sometimes I wish life was like Facebook, you can delete anyone off your page and go back and delete everything you have said and done!


…did a lot of nothing yesterday, but I didn’t finish, so I’m going to do it again today!


Trust me I am a liar.


बहुत सोचा, बहुत समझा, बहुत देर तक परखा, तन्हा हो के जी लेना मोहब्बत से बेहतर है


चढते सूरज के पुजारी तो लाखों हैं …..डूबते वक़्त हमने सूरज को भी तन्हा देखा ….!!


पुराना ज़हर नए नाम से मिला है मुझे… वो आस्तीन नहीं केंचुली बदल रहा था…


मेरा “मैं” हरपल “हम” में बदलता रहा… और तुम बे-परवाह “तुम” में ही रही…


Got a new job with the local hostage negotiators and tried to phone in sick but they talked me out of it.


I’ve gone out to find myself. If I should arrive before I get back, please ask me to wait.


I Know Watt You’re Doing Right Now… You’re Reading On My Wall, Right !


Facebook is like prison, you write on walls and get poked bu people you don’t know.


कभी भूल कर भी मत जाना मोहब्बत के जंगल में……..यहाँ साँप नहीं हमसफ़र डसा करते हैं।


बचा ही मुझमें क्या??? दिल महबूब ले गया… और दर्द में लिखे अल्फ़ाज़….. लोग चुरा ले गये.….

You May Also Like