Motivational Shayari in Hindi

सूरज हर शाम को ढल ही जाता है, पतझड़ बसंत में बदल ही जाता है, मेरे मन मुसीबत में हिम्मत मत हारना समय कैसा भी हो गुज़र ही जाता है.


राह संघर्ष की जो चलता है, वो ही संसार को बदलता हैं, जिसने रातों से है जंग जीती, सुबह सूर्य बनकर वही चमकता है.


रख हौंसला वो मंजर भी आयेगा, प्यासे के पास चल के समंदर भी आयेगा, थक कर ना बैठ ऐ मंज़िल के मुसाफ़िर, मंज़िल भी मिलेगी और मिलने का मज़ा भी आयेगा .


मंजिल यूँ ही नहीं मिलती राही को, जुनून सा दिल में जगाना पड़ता है, पूछा चिड़िया से कि घोसला कैसे बनता है, वो बोली कि तिनका तिनका उठाना पड़ता है.


खुल कर तारीफ़ भी किया करो, दिल खोल हँस भी दिया करो, क्यूँ बाँध के ख़ुद को रखते हो, पंछी की तरह भी जिया करो.


कोशिशें की समझदार बनने की लेकिन खुशियाँ बेवकूफियों से ही मिली.


आज बादलों ने फिर साज़िश की जहाँ मेरा घर था वहीं बारिश की अगर फलक को जिद है ,बिजलियाँ गिराने की तो हमें भी ज़िद है ,वहि पर आशियाँ बनाने की.


ज़िंदगी कि असली उड़ान बाकी है जिंदगी के कई इम्तेहान अभी बाकी है अभी तो नापी है मुट्ठी भर ज़मीन हमने अभी तो सारा आसमान बाकी है.


जिंदगी का हर पल लाजवाब हो न हो जिंदगी के हर सवाल का जवाब होना चाहिए, इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कितनी ही देर लगे इंसान जिंदगी में कामयाब होना चाहिए.