1000+ Maut Shayari in Hindi - Heart Touching Collection

Maut Shayari in Hindi

Maut Shayari in Hindi:

Maut Shayari in Hindi For Love

Maut Shayari in Hindi Maut Shayari in Hindi For Love 2 Line Maut Shayari in Hindi Maut Ki Dua Shayari in Hindi Maut Shayari in Hindi on Kafan Maut Shayari in Hindi For Whatsapp Maut Shayari in Hindi For Facebook Maut Shayari in Hindi For Instagram 1000+ Maut Shayari in Hindi - Heart Touching Collection Get The Best Collection of Maut Shayari in Hindi. You Can Share it on Whatsapp And Facebook With Your Love, Friends, Family. Also See 2 Line Maut Shayari.

मेरे चेहरे से कफ़न हटा कर, जरा दीदार तो कर लो , ऐ जान बंद हो गई है वो आंखे जिन्हे तुम रुलाया करते थे.


कितना ख़ुशनुमा होगा, वो मेरी मौत का मंजर, जब मुझे ठुकराने वाले खुद मुझे पाने के लिए, आंसू बहायेंगे.


उससे बिछड़े तो मालूम हुआ मौत भी कोई चीज़ है, ज़िन्दगी वो थी जो उसकी महफ़िल में गुज़ार आए।


बढ़ जाती है मेरी मौत की तारीख खुद ब खुद आगे, जब भी कोई तेरी सलामती की खबर ले आता है।

2 Line Maut Shayari in Hindi

शिकायत मौत से नहीं अपनों से थी मुझे जरा सी आँख बंद क्या हुई वो कब्र खोदने लगे


पता नहीं कौन सा जहर मिलाया था तुमने मोहब्बत में… ना जिंदगी अच्छी लगती है और ना ही मौत आती है


कौन कहता है कि मौत आई तो मर जाऊँगी, मैं तो नदी हूँ समुंदर में उतर जाऊँगी.


ना जाने मेरी मौत कैसी होगी, पर ये तो तय है की तेरी बेवफाई से तो बेहतर होगी।

Maut Ki Dua Shayari in Hindi

Aaj To Hum Maut Ki Dua Kar Ke Roye Hain Dobara Aaj Khuda Se Gila Kar Ke Roye Hain Kyon Na Likh Saka Tu Us Ko Taqdeer Mein Meri Yeh Aik Khayal Soch Kar Phir Hum Roye Hain.


करूँ क्यों फ़िक्र मौत के बाद जगह कहाँ मिलेगी जहाँ होगी दोस्तों की महफिलें, मेरी रूह वहाँ मिलेगी


उम्र तमाम बहार की उम्मीद में गुजर गयी, बहार आई है तो पैगाम मौत का लाई है।


मिट्टी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई, मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई, कुछ पल की मोहलत और दे दे ऐ खुदा, उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई।

Maut Shayari in Hindi on Kafan

एक दिन जब हुआ इश्‍क का एहसास उन्‍हें, वो हमारे पास आ कर सारा दिन रोते रहे, और हम भी इतने खुदगरज निकले यारों कि, आँखे बंद कर के कफ़न में सोते रहे.


इन हसीनो से तो कफ़न अच्छा है; जो मरते दम तक साथ जाता है; ये तो जिंदा लोगो से मुह मोड़ लेती हैं; कफ़न तो मुर्दों से भी लिपट जाता है !!


इंसानों के कंधे पर इंसान जा रहे हैं;, कफ़न में लिपट कर कुछ अरमान जा रहे हैं;, जिन्हें मिली मोहब्बत में बेवफ़ाई, वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं !!


कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता; गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता; एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को; क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता.

Maut Shayari in Hindi For Whatsapp

इंतज़ार है हमें तो बस अपनी मौत का, उनका वादा है कि उस दिन मुलाकात होगी।


मौत-ओ-हस्ती की कशमकश में कटी उम्र तमाम, गम ने जीने न दिया शौक ने मरने न दिया।


अब मौत से कह दो कि नाराज़गी खत्म कर ले, वो बदल गया है जिसके लिए हम ज़िंदा थे ।


उसकी यादों ने मुझे पागल बना रखा है, कहीं मर ना जाऊं कफ़न सिला रखा है, मेरा दिल निकाल लेना दफ़नाने से पहले, वो ना दब जाए जिसे दिल मे बसा रखा है।

Maut Shayari in Hindi For Facebook

मौत को तो मैंने कभी देखा नहीं, पर यकीनन बहुत खुबसूरत होगी,जो भी मिलता है उससे जीना छोड़ देता है.


तुम मेरी कब्र पे रोने मत आना, मुझसे प्यार था ये कहने मत आना, दर्द दो मुझे जब तक दुनिया में हूँ, जब सो जाऊं तो मुझे जगाने मत आना।


यूँ तो हादसों में गुजरी है हमारी ज़िंदगी, हादसा ये भी कम नहीं कि हमें मौत ना मिली।


मेरी ज़िंदगी तो गुजरी तेरे हिज्र के सहारे, मेरी मौत को भी कोई बहाना चाहिए।

Maut Shayari in Hindi For Instagram

जिन्दगी से तो खैर शिकवा था मुद्दतों मौत ने भी तरसाया.


सुलगती जिंदगी से मौत आ जाये तो बेहतर है, हमसे दिल के अरमानों का अब मातम नहीं होता.


Related Shayari You May Like:


तेरी ही जुस्तजू में जी लिए इक ज़िंदगी हम, गले मुझको लगाकर खत्म साँसों का सफ़र कर दे.


आगाह अपनी मौत से कोई बशर नहीं सामान सौ बरस का है पल की ख़बर नहीं

You May Also Like