Mausam Shayari in Hindi

Mausam Shayari in Hindi: if you are looking for best romantic or sad mausam shayari then grab our Romantic mausam shayari collection in Hindi to make your feelings great the perfect time to arrange your enjoyment. Obviously , if you have love, girlfriend, or friends in college therefore you must need suhana mausam shayari to seize your relax All times when the girlfriend or boyfriend is away from college, you do not get the luxurious of choosing and deciding mousam ki shayari. Romantic suhana mausam shayari is absolutely great to share on the right time when the weather is romantic and suhana. If the weather is winter then you surely need to use thand mausam shayari to your Facebook friends or Whatsapp. If the weather is about to rain then you may need to use rain mausam shayari to share romantic feeling to your fb friends or someone special. See our best collection of mousam poetry in Hindi for love and friends. Updatepedia.com the best suhana mausam shayari for Facebook and whatsapp time for it to visit is certainly not throughout the romantic weather when the users are looking for some best two line romantic weather mausam shayari for gf & bf to share on whatsapp or Facebook.

Best Mausam Shayari Collection in Hindi

Romantic mausam shayari suhana mausam shayari mausam shayari in hindi mausam ki shayari mausam shayari facebook suhana mausam shayari Romantic mausam shayari in hindi thand ke mausam ki shayari mausam ki shayari mousam shayari mousam suhana mausam poetry suhana mausam shairy shayari

2 Line Romantic Mausam Shayari in English Font

Kahin fisal na jao zara sambhal ke rehna, Mausam baarish ka bhi hai aur mohabbat ka bhi.


Barish Ke Paani Ko Apne Haathon Mein Samet Lo. Jitna Aap Samet Paaye Utna Aap Humein Chahte Hai Aur Jitna Na Samet Paye Utna Hum Aap Ko Chahte Hai.


Maza Barsat Ka Chaho To In Aankhon Mein Aa Baitho Wo Barson Mein Kabhi Barsen, Yeh Barson Se Barasti Hain.


Ye husne mosam, ye barish, ye hawayein, Lgta hai mohabbat ne aaj kisi ka sath diya hai.


Sad Mausam Shayari in Hindi for Facebook 

तुमको बारिश पसंद है मुझे बारिश में तुम, तुमको हँसना पसंद है मुझे हस्ती हुए तुम, तुमको बोलना पसंद है मुझे बोलते हुए तुम, तुमको सब कुछ पसंद है और मुझे बस तुम.


काश कोई इस तरह भी वाकिफ हो मेरी जिंदगी से, कि मैं बारिश में भी रोऊँ और वो मेरे आँसू पढ़ ले.


बारिश में आज भीग जाने दो, बूंदों को आज बरस जाने दो, न रोको यूँ खुद को आज, भीग जाने दो इस दिल को आज.


गर मेरी चाहतों के मुताबिक, जमाने की हर बात होती, तो बस में होता तुम होती, और सारी रात बरसात होती.


Sad Mousam Shayari for Girlfriend 

खुद भी रोता है मुझे भी रुला देता है ये बारिश का मौसम उसकी याद दिला देता है.


बे मौसम बरसात से अंदाज़ा लगता हूँ मैं फिर किसी मासूम का दिल टुटा है मौसम-ए-बहार में.


मैं तेरे हिज्र की बरसात में कब तक भीगूँ ऐसे मौसम में तो दीवारे भी गिर जाती हैं.


रहने दो कि अब तुम भी मुझे पढ़ न सकोगे बरसात में काग़ज़ की तरह भीग गया हूँ मैं.


Two Line Sad Mausam Shayari for Love

मेरी तलाश का है जुर्म या मेरी वफा का क़सूर, जो दिल के करीब आया वही बेवफा निकला.


धुप सा रंग है और खुद है वो छाँवो जैसा उसकी पायल में बरसात का मौसम छनके.


चाहा था कि भीगें तेरी बारिश में हम मगर अपने ही सुलगते हुए ख्वाबों में जले हैं.


बरसात का बादल तो दीवाना है क्या जाने, किस राह से बचना है किस छत को भिगोना है.


Suhana Baarish Mausam Shayari for Love & GF

सुना है बारिश में दुआ क़बूल होती है अगर हो इज्जाजत तो मांग लू तुम्हे.


बरसात का मज़ा तेरे गेसू दिखा गए, अक्स आसमान पर जो पड़ा अब्र छा गए.


गुल तेरा रंग चुरा लाए हैं गुलज़ारों में जल रहा हूँ भरी बरसात की बौछारो में.


अभी तो खुश्क़ है मौसम,बारिश हो तो सोचेंगे हमें अपने अरमानों को,किस मिट्टी में बोना है.


2 Line Mausam Shayari in Hindi 

Bewafai Ka Mausam Bhi Ab Yahan Aane Laga Hai, Wo Fir Se Kisi Aur Ko Dekhkar Muskurane Laga Hai.


मेरी तलाश का है जुर्म या मेरी वफा का क़सूर, जो दिल के करीब आया वही बेवफा निकला.


Ab Kon Se Mausam Se Koi Aas Lagaye Barsaat Mein Bhi Yaad Na Jab Un Ko Hum Aye.


मेरे हालात को कौन जाने, बस बारिश का मौसम है, पर दिल की ख्वाहिश कौन जाने, मेरी प्यास का एहसास कौन जाने.


Heart Touching Mausam Shayari on Life

अपने घर संगएमलामत की हुई है बारिश बेगुनाही की सनद हम जो दिखाने निकले.


सीने में समुन्दर के लावे सा सुलगता हूँ मैं तेरी इनायत की बारिश को तरसता हूँ.


अब्र के चारों तरफ बाढ लगा दी जाये मुफ्त बारिश में नहाने पे सजा दी जाए.


तेरे तसव्वुर की धूप ओढ़े खड़ा हूँ छत पर मिरे लिए सर्दियों का मौसम ज़रा अलग है साबिर.


Sad Shayari for Mausam in Hindi Font

दर ओ दीवार पे शक्लें सी बनाने आई, फिर ये बारिश मेरी तन्हाई चुराने आई.


इन आँखों से दिनरात बरसात होगी अगर ज़िंदगी सर्फ़एजज़्बात होगी.


परदेस में क्या महसूस करें,बारिश का मज़ा मिट्टी की महक़ जब गाँव में अपने होती है,बरसात से खुशबू आती है.


मौसम नहि जो पल मे बदल जाऊ जमीन से कहि दूर निकल जाऊ पुराने वक्त का सिक्का हु यारो मूजे फेक ना देना बूरे दिनो मे शायद मै हि काम आ जाऊ.


Sad Mausam Shayari in Hindi Font

कम से कम अपनी जुल्फे तो बाँध लिया करो कमबख्त. बेवजह मौसम बदल दिया करते हैं.


जो आना चाहो हज़ारों रास्ते  न आना चाहो तो हज़ारों बहाने मिज़ाज-ऐ-बरहम , मुश्किल रास्ता  बरसती बारिश और ख़राब मौसम.


Other Posts You May Like:


लुत्फ़ जो उस के इंतज़ार में है वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है.


तुम्हारे शहर का मौसम बड़ा सुहाना लगे मैं शाम चुरा लूँ अगर बुरा न लगे क़ैसर-उल जाफ़री.