Life Status in Hindi

मैंने महसूस किया है उस जलते हुए रावण का दुःख जो सामने खड़ी भीड़ से बारबार पूछ रहा था… तुम में से कोई राम है क्या?


नए लोग से आज कुछ तो सीखा हे, पहले अपने जैसा बनाते हे फिर अकेला छोड़ देते है…


खेलने दो उन्हे जब तक जी न भर जाए उनका, मोहब्बत चार दिन कि थी तो शौक कितने दिन का होगा…


मोहब्बत ख़ूबसूरत होगी किसी और दुनियाँ में, इधर तो हम पर जो गुज़री है हम ही जानते हैं…


एहसान वो किसी का लेते, नहीं मेरा भी चुका दिया, जितना भी खाया था नमक, मेरे ज़ख़्मों पर लगा दिया…


हद से बढ़ जाये तालुक तो गम मिलते हैं.. हम इसी वास्ते अब हर शख्स से कम मिलते हँ.


कितना कुछ जानता होगा वो शख्स मेरे बारे में मेरे मुस्कुराने पर भी जिसने पूछ लिया की तुम उदास क्यों हो.


कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर, एक लापरवाह लड़का क्यों तेरी परवाह करता था…


पता नहीं क्यों, लोग रिश्ते छोड़ देते हैं लेकिन जिद नहीं…????


आईना जब भी उठाया करो पहले देखा करो फिर दिखाया करो


जिंदगी में बेशक हर मौके का फायदा उठाओ मगर, किसी के भरोसे का फ़ायदा नहीं.


जिस्म से होने वाली मुहब्बत का इज़हार आसान होता है. रुह से हुई मुहब्बत को समझाने में ज़िन्दगी गुज़र जाती है.


बात करने से ही बात बनती है..बात ना करने से, बातें बन जाती है.


नादान लोग ही जीवन का मज़ा लेते हैं , समझदारों को तो हमने हमेशा मुश्किलों में ही देखा है


बस ग़मों को गुमराह कर दो , खुशियाँ खुद लौट आएँगी।


छोटी सोच शंकाओं को जनम देती है जबकि बड़ी सोच समाधान को आँसू भी अक्सर ज्यादा उस इन्सान की आँखों मे मिलेंगे , जिन्हे जिन्दगी ने नही मोहब्बत ने मारा हो


कई बार हमारे साथ कुछ ऐसे हादसे हो जाते हैं जिनके बारे में हम सोचते रहते हैं क़ि ये कब…कहाँ …कैसे और क्यों हुआ…और यकीन मानिये “प्यार” ….इनमे से सबसे खतरनाक है


जो दिल में शिकवा और ज़ुबान पर शिकायत कम रखते है वो हर रिश्ता निभाने का दम रखते है।


किन लफज़ों मे लिखूँ मैं अपने इंतज़ार को …. बेजुबां सा इश्क …..खमोशी से ढूँढता है तुम्हे …..


पूरी उम्र सीख ना सके जो किताबें पढ़ कर , करीब से कुछ चेहरे पढ़े तो ना जाने कितने सबक सीख लिए


वहां तक तो साथ चलो जहाँ तक साथ मुमकिन है, जहाँ हालात बदलेंगे वहां तुम भी बदल जाना.


न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर.. तेरे सामने आने से ज़्यादा तुझे छुपकर देखना अच्छा लगता है…