Emotional SMS in Hindi

पी है शराब हर गली की दुकान से, दोस्ती सी हो गयी है शराब की जाम से, गुज़रे है हम कुछ ऐसे मुकाम से, की आँखें भर आती है मोहब्बत के नाम से..!


ये तो ज़मीन की फितरत है की, वो हर चीज़ को मिटा देती हे वरना, तेरी याद में गिरने वाले आंसुओं का, अलग समंदर होता.


बहुत देर करदी तुमने मेरी धड़कनो को महसूस करने में, वो दिल नीलाम हो गया जिस पर कभी तुम्हारी हुकूमत थी।


हम सिमटते गए उनमें और वो हमें भुलाते गए, हम मरते गए उनकी बेरुखी से, और वो हमें आजमाते गए, सोचा की मेरी बेपनाह मोहब्बत देखकर सीख लेंगी वफाएँ करना, पर हम रोते गए और वो हमें खुशी खुशी रुलाते गए..!!


उतर के देख मेरी चाहत की गहराई में! सोचना मेरे बारे में रात की तन्हाई में, अगर हो जाए मेरी चाहत का एहसास तुम्हे! तो मिलेगा मेरा अक्स तुम्हे अपनी ही परछाई में


न वो आ सके न हम कभी जा सके, न दर्द दिल का किसी को सुना सके, बस बैठे है यादों में उनकी, न उन्होंने याद किया और न हम उनको भुला सके!


दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया, खाली ही सही हाथों में जाम तो आया, मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने, यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया।


उसने कहा “तुम मे पहले जैसी अब बात नही ! मैने कहा “जिन्दगी में तुम्हारा जो अब साथ नही ! उसने कहा “अब भी किसी की आंखो मे डुब सकते हो ! मैने कहा “किसी की आंखो मे अब वो बात नही


रोकना मेरी हसरत थी और जाना उसका शौक़ वो अपना शौक़ पूरा कर गया मेरी हसरते तोड़ कर !!


इश्क़ में मैने वो सबूत भी दिए जिनको खरीदने में मेरा जागीर बिक गया कमबख्त इश्क़ मेरा फिर भी झूठा निकला !!


तकलीफ ये नही की किस्मत ने मुझे धोखा दिया, मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नही.


जानते थे तोङ दोगे तुम, फिर भी दिल तुम्हेँ देना अच्छा लगा.


अलविदा कह कर जब वो चल दिए, आँखों ने सारे हासिन ख्वाब खो दिए, गम ये नहीं मुझे की वो छोड़ गए, दर्द तो तब हुआ जब अलविदा कहते-कहते वो रो दिए।


अपनी जवानी में और ‪रखा ही क्या है, कुछ तस्वीरें यार की ‪‎बाकी बोतलें शराब की ।।


आज आईने के सामने खड़े हो कर खुद से माफ़ी मांग ली मैंने, सब से ज्यादा खुद का ही दिल दुखाया है दूसरों को खुश करने में।


गम ना हो वहाँ जहाँ हो फसाना तेरा, खुशियाँ ढूँढती रहें आशियाना तेरा, वो वक़्त ही ना आए जब तू उदास हो, ये दुनिया भुला ना सके मुस्कुराना तेरा


उन लम्हों की यादें ज़रा संभाल के रखना. जो हमने साथ बिताये थे. क्यों की. हम याद तो आयेंगे मगर लौट कर नहीं!