1000+【Death Status】in Hindi & English About Died

Death Status in Hindi & English

I never wanted to see anybody die, but there are a few obituary notices I have read with pleasure.


Death, thou art infinite, it is life is little.


We are born alone, we live alone, we die alone. Everything in between is a gift.


Death is not extinguishing the light; it is only putting out the lamp because the dawn has come.


मेरे चेहरे से कफ़न हटा कर … जरा दीदार तो कर लो, ऐ जान बंद हो गई है वो आंखे …जिन्हे तुम रुलाया करते थे.


कितना ख़ुशनुमा होगा, वो मेरी मौत का मंजर, जब मुझे ठुकराने वाले खुद मुझे पाने के लिए,आंसू बहायेंगे …!!


मौत की वादियों से, मैं कभी खुद को बचा तो न पाउंगी, पर जब तक चली साँसे, कसम तेरी ये मोहब्बत निभाऊंगी.


मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम, यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा, मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी, कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा।


It kills me sometimes, how people die.


Unseeing dead isn’t being alive.


I go to seek a great perhaps.


It is not death that a man should fear, but he should fear never beginning to live.


किमत पानी की नही, प्यास की होती है, कदर मौत की नही, सांस की होती है,प्यार तो बहुत लोग करते है दुनिया मे, पर किमत प्यार की नही, विश्वास की होती है।


अब तो घबरा के ये कहते हैं कि मर जाएँगे मर के भी चैन न पाया तो किधर जाएँगे


आगाह अपनी मौत से कोई बशर नहीं सामान सौ बरस का है पल की ख़बर नहीं


जिंदगी तो हमेशा से ही, बेवफा और ज़ालिम होती है मेरे दोस्त, बस एक मौत ही वफादार होती है, जो हर किसी को मिलती है।


Death isn’t nothing but a fastball on the outside corner.


It hath been often said, that it is not death, but dying, which is terrible.


We sometimes congratulate ourselves at the moment of waking from a troubled dream it may be so the moment after death.


With death comes honesty.


वो कर नहीं रहे थे मेरी बात का यकीन, फिर यूँ हुआ के मर के दिखाना पड़ा मुझे।


जनाजा रोक कर मेरा वह इस अंदाज से बोले, गली हमने कही थी तुम तो दुनिया छोड़े जाते हो।


किससे महरूम-ए-किस्मत की शिकायत कीजे, हमने चाहा था कि मर जायें सो वो भी नहीं हुआ।


मौत-ओ-हस्ती की कशमकश में कटी उम्र तमाम, गम ने जीने न दिया शौक ने मरने न दिया।


Death is when the monsters get you.


Since the day of my birth, my death began its walk. It is walking toward me, without hurrying.


Man always dies before he is fully born.


Neither the sun nor death can be looked at with a steady eye.


ले रहा है तू खुदाया इम्तेहाँ दर इम्तेहाँ, पर स्याही ज़िंदगी की खत्म क्यूँ होती नहीं ।


तेरी ही जुस्तजू में जी लिया इक ज़िंदगी मैंने, गले मुझको लगाकर खत्म साँसों का सफ़र कर दे।

You May Also Like