15 August Status in Hindi

“तहे दिल से मुबारक करते हैं, चलो आज फिर उन आज़ादी के लम्हों को याद करते हैं, कुर्बान हुए थे जो वीर जवान भारत देश के लिए, उनके जज़्बे और वीरता को चलो आज प्रणाम करते हैं, स्वतंत्रता दिवस की बधाई ।”


“चड़ गये जो हंसकर सूली खाई जिन्होने सीने पर गोली हम उनको प्रणाम करते हैं, जो मिट गये देश पर हम सब उनको सलाम करते हैं, स्वतंत्रता दिवस की बधाई ।”


“अगर आप शादी-शुदा हैं, तो कृपया इस पर ध्यान ना दें बाकी सब को आज़ादी दिवस मुबारक़ ।”


“ये बात हवायों को बताये रखना रोशनी होगी चिरागों को जलाये रखना लहू देकर जिसकी हिफ़ज़त की हमने ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना, स्वतंत्र दिवस का हार्दीक अभिनन्दन ।”


“चलो फिर से आज वो नज़ारा याद कर लें शहीदों के दिल में थी जो ज्वाला वो याद कर लें जिसमे बहकर आज़ादी पहुँची थी किनारे पे देशभक्तों के खून की वो धारा याद कर लें स्वतंत्रता दिवस मुबारक ।”


“जो विवाहित हैं, वो इसे नज़रंदाज़ करें बाकि सब को स्वतंत्रता दिवस मुबारक हो ।”


“अब तक जिसका खून न खौला वो खून नहीं, वो पानी है, जो देश के काम ना आये वो बेकार की जवानी है.


“मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ, यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ, मुझे चिंता नहीं है, स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ,
स्वतंत्रता दिवस मुबारक ।”


“अब तक जिसका खून न खौला वो खून नहीं वो पानी है, जो देश के काम ना आये वो बेकार जवानी है, 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की बधाई ।”


“ये बात हवाओं को बताये रखना, रौशनी होगी बस चिरागों को जलाये रखना, लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की, ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना, स्वतंत्रता दिवस की शुभ कामनायें ।”


“जब तक गलती करने की स्वतंत्रता ना हो तब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नहीं है ।”


“हीरो वह होता है, जो स्वतंत्रता के साथ आई जिम्मेदारियों को समझता है ।”


“किसी भी कीमत पर स्वतंत्रता का मोल नहीं, किया जा सकता.वह जीवन है, भला जीने के लिए कोई क्या मोल नहीं चुकाएगा ?”


“ईश्वर की कृपा से हमारे देश में तीन बेहद कीमती चीजें उपलब्ध हैं: भाषण की स्वतंत्रता, अंतरात्मा की स्वतंत्रता, और इनमे से किसी का भी प्रयोग ना करने का विवेक.”


“मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ, यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ, मुझे चिंता नहीं है, स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ ।”


“आततायी कभी स्वेछा से आज़ादी नहीं देता, पीड़ितों द्वारा इसकी मांग की जानी चाहिए ।”


“आओ दोस्तों तुम्हें सुनाऊँ कहानी हिंदुस्तान की, सुभाष चंदर बोस और भगत सिंह जैसे वीरों के अभिमान की जाति अलग, धरम अलग पर सबका बस एक ही नारा है, भारत माता की रक्षा करना लक्ष्य यही हमारा है, 15 अगस्त की सभी देशवासियों को बधाई ।”